Annual Report

 Annual Report

 

 

 

केंद्रीय विद्यालय

विद्यालय प्रगति सोपान, एक नजर

 

भविष्य  के गर्भ मे  क्या  कुछ  है,  किसी  को  कुछ  नही  पता  और  यदि  हो  जाए  तो  फिर  भविष्य  नाम  सार्थक  ही  नहीं  रहेगा । लेकिन मनुष्य, मनस्वी की पहचान यही है, कि वह वर्तमान की ही बात करता है ।अब मैं ध्यान आकर्षित करना चाहूंगा विद्यालय प्रगति एक सोपान, यथार्थ व्यक्त करने की स्वीकृति मुझे दें।, धन्यवाद महामना गुणवत्ता, क्वालिटी की यदि हम बात करें, तो हमारे विद्यालय ने 300 प्रतिशत की वृद्धि की है। ज़ो अपने आप मे स्वयं एक कीर्तिमान है,रिकार्ड है। इसी परम्परा का धनी है,केंद्रीय विद्यालय  ट्रैस्पोन परिेसर जिसने एक अद्भुत मिशाल कायम की है ।इसका श्रेय नैतिकता के प़ु्ंज बात के धनी, मेहनत के पर्याय श्री के एस पठानिया जी ने सम्बन्धित शिक्षक वृंद को दिया है। जिनका स्पष्ट कथन है। किकुशल एवं समर्पित शिक्षक ही है, जो पर्दे के पिछे रह समाज एवं राष्ट्र निर्माण जैसे पुनीत कर्तव्य को अन्जाम देता है। अच्छे परिवार के होनहार छात्रों को इन्सानियत हेतु तरासता है।भूतकाल से प्रेरणा लेकर, भविष्य को संवारने हेतु जो वर्तमान में जीता है।वहीं वीर पुरूष हैं, वहीं परिवार, समाज एवं राष्ट्र को उन्नति के चरमोत्कर्ष पर पहुंचता है। आने वाली पीढ़ियों हेतु प्ररेणा स्रोत बनता है। इतिहास इस बात का साक्षी है,गवाह है। इतिहास निर्माण की ओर अग्रसर केन्द्रीय विद्यालय का वार्षिकोत्सव, प्रतिवेदन, प्रस्तुत करते हुए,आप सभी बुद्धिजिवियों को यहां  देखकर मैं फूला नहीं समा रहा, बड़े हर्ष के साथ, इस पुनीत अवसर पर विद्यालय की शैक्षणिक गतिविधियों, क्रियाकलापों से आपको अवगत करवा रहा  बेहद गौरवान्वित महसूस कर रहा हूँ।

हमारे विद्यालय वर्ग मैं बारहवीं तक गुणवत्ता की शिक्षा प्रदान करता है। शैक्षणिक गतिविधियों विषय समिति की बैठक में हर महीने के अंतिम कार्य दिवस जहां विभिन्न तरीकों से धीमी गति से सीखने के सुधार के साथ ही मेधावी छात्रों के लिए तैयार कर रहे हैं पर समीक्षा कर रहे हैं। हम धीमी शिक्षार्थियों के सुधार के लिए उपचारात्मक कक्षाओं का संचालन।वर्तमान में 21 शिक्षण स्टाफ और उप कर्मचारी हैं।

1. आधारभूत के लिए वापस(back to basic):- जो इस अवधारणा को प्राथमिक छात्रों के लिए एक बहुत प्रभावी ढंग से शिक्षा प्रदान करने के लिए सबसे अच्छा उपकरण माना जाता है सभी प्राथमिक कक्षाओं में शुरू किया गया है पूरी तरह से गतिविधि आधारित शिक्षण पर आधारित है।

  अब एक दिन में केवीएस और सीबीएसई राष्ट्रीय पाठ्यचर्या की रूपरेखा 2005 के दिशा निर्देशों को शामिल किया गया है

2पाठयक्रम हगामी क्रियाकलाप गतिविधियों: - हम छात्रों के सर्वांगीण विकास पर विशेष जोर देने के लिए और चार घरों में छात्रों को विभाजित सह पाठयक्रम गतिविधियों का आयोजन।

1) शिवाजी हाउस

2) टैगोर हाउस

3) अशोक हाउस

4) रमन हाउस

छात्रों की छिपी प्रतिभा का पता लगाने के लिए, हम कई बातों के साथ-घरों प्रतियोगिता का आयोजन किया है। 50 से अधिक पुरस्कार इस सत्र में वितरित किये जा रहे है। एक विद्यार्थी ,,,,,,,,,  रोहतक हरियाणा में आयोजित राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में प्रथम रहा विद्यालय के साथ-साथ परे जम्मू रिजन का का गौरव बढ़ाया। 

      3. कंप्यूटर शिक्षा: - हम कक्षा -III के बाद के रूप में प्रति केवीएस मानदंडों के छात्रों को कंप्यूटर शिक्षा देने के लिए और भी छात्रों के लिए ब्रॉडबैंड इंटरनेट की सुविधा प्रदान की है। एक विषय के रूप में कंप्यूटर कक्षा ग्यारहवीं और बारहवीं में पढ़ाया जा रहा है हमारे विद्यालय मै २५ कंप्यूटर मोजूद हैं।

     4. कला और शिल्प, योग, नृत्य और संगीत का संवर्धन: - हम आर्ट एंड क्राफ्ट, नृत्य, संगीत, योग, खेल विशेषज्ञों की तरह विभिन्न विषयो के विशेषज्ञ शिक्षक हमारे बच्चों को प्रशिक्षित करने की अपन पूरा योगदान दे रहे है मानसिक रूप से और शारीरिक रूप से मजबूत हो सके

   5. स्काउट और गाइड: - हमारे विद्यालय मे प्रशिक्षित स्काउट मास्टर्स के तहत स्काउट और गाइड इकाई है जो छात्रों को हमारे देश के भविष्य जिम्मेदारी कंधे करने के लिए तैयार कर रहे हैं इनका आदर्श वाक्य है- "जरूरतमंदों की मदद करने के लिए और तैयार रहो।

6. पुस्तकालय सेवा: - हम 21 पत्रिकाओं के द्वारा हमारे छात्रों के पढ़ने की आदतों को प्रोत्साहित करने के लिए खेल, विज्ञान, और सामान्य जागरूकता और 03 समाचार पत्रों की तरह अलग अलग क्षेत्रों को कवर करने के साथ संपूर्ण पुस्तकालय है। विद्यालय के 50 छात्रों के एक औसत प्रति दिन लाभ उठाने के पुस्तकालय सेवाएं। वर्तमान समय मे पुस्तकालय कुल 2700 पुस्तकों का संकलन है राष्ट्र भाषा संवर्धन पखवाड़े का आयोजन किया गया। साहित्य की भिन्न-भिन्न  विधाओं नाटक, कहानी, कविता, निबंध लेखन  आदि- आदि इन्द्र -धनुषी प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। विद्यालय की पुस्तक प्रदर्शनी आकर्षण का केन्द्र रही।

7. प्रयोगशाला की सुविधा: - विद्यालय में अच्छी तरह से भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान और कंप्यूटर के लिए प्रयोगशालाओं को सुसज्जित किया गया है। साथ ही विद्यालय मे शीघ्र ही सांसद निधि से 20 कंप्यूटर   मिलने वाले है जिससे छात्रों को कंप्यूटर सीखने मे सहायता मिलेगी

8.अनिवार्य स्वास्थ्य जांच: - विद्यालय के सभी छात्रों के लिए एक नि: शुल्क और अनिवार्य स्वास्थ्य जांच के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी,कारगिल से अनुरोध किया गया है कि विद्यालय  मे नियमित अंतराल के बाद एक नि: शुल्क और अनिवार्य स्वास्थ्य जांच शिविर शुरू किया जाए एम्--आर रुबेला जैसी भयंकर बीमारी रोधक टीकाकरण इस माह का सराहनीय प्रयास रहा और

9. सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुति आपको से छिपी नहीं है, आपके समक्ष है ।ये सभी बच्चे इसी विद्यालय के हैं, बाहर के नहीं मंच संचालन प्रात: सभा , हिंदी ,संस्कृतइंग्लिश एवं सर्व धर्म सद्भाव प्रार्थना आदि-आदि सभी क्रियाकलाप छात्रों द्वारा ही संचालित होते हैं।जम्मू-संभागीय प्रतियोगिता में पहली बार समूहगान में तृतीय स्थान प्राप्त  करके सभी पूर्वाग्रहों आऊट डेटिड कस्टम का रिकॉर्ड तोड़ा है।

10. माता पिता, शिक्षक बैठक: - हम इकाई परीक्षण और अर्द्ध वार्षिक परीक्षा के बाद अलग-अलग वर्गों के लिए अभिभावक शिक्षक  बैठक का आयोजन करते है  हमें पता है कि माता-पिता बच्चों को उचित मार्गदर्शन के लिए हमारी नैतिक ताकत हैं। माता-पिता की मदद के बिना हम किसी भी बच्चे को अभिव्यक्ति करने के लिए बेहतर व्यक्तिगत मार्गदर्शन प्रदान नहीं कर सकते  हम माता पिता और शिक्षकों के बीच हमें एक बहुत मदद कर सही रास्ते पर बच्चों को लाने के लिए। हम कृत संकल्प हैं,वचनबद्ध हैं।

11. दादा दादी दिवस: - केन्द्रीय विद्यालय संगठन के आदेशानुसार विद्यालय परिवार  हमारे वरिष्ठ नागरिकों के सम्मान और आशीर्वाद अर्जित करने के लिए हम स्कूल में  दादा दादी दिवस शुरू किया है जिससे  और बच्चों में अपने माता पिता की देखभाल ही नहीं अपितु  दादा दादी के प्रति सम्मान करने की आदत विकसित होती है I इसी सप्ताह हम इस पुनीत कर्तव्य का निर्वहन कर चुके हैं। 

12परीक्षा परिणाम:-सत्र 2017-18 मे हमारे विद्यालय का परीक्षा परिणाम सभी कक्षाओ का शत प्रतिशत रहा I कक्षा १०वी के सीबीएसई बोर्ड परीक्षा के मेधावी छात्रों  विद्यालय का नाम ज़िले मे रोशन किया I

रोहतक हरियाणा में आयोजित राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में प्रथम रहा विद्यालय के साथ-साथ परे जम्मू रिजन का गौरव बढ़ाया।  यह संभव हुआ है, केवल आप के सहयोग से आपके पर्याय से,,, आशिर्वचन  

 मैं आप  सभी का तहदिल से आभार व्यक्त करता हूँ की आप सभी ने अपना बहुमूल्य समय निकाल कर  समारोह में अपनी उपस्थिति दर्ज करायी और हमारे बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए अपना कीमती समय निकाला हैं। मैं आप सभी का एक बार फिर से शुक्रिया अदा करता हूँ और उम्मीद करता हूँ की आप जब भी- विद्यालय में ऐसे समारोह का आयोजन किया जाएगा आप अपनी मौजूदगी दर्ज कराएंगे मैं इन्ही शब्दो के साथ अपनी वाणी को विराम देता हूँ